Wednesday, March 31, 2010

कवयित्री का विद्रोह


गत सप्ताह दुबई में अमेरिकन आयडल की भाँति और उसी के ढाँचे पर कवि और उनकी कविताओं को लेकर आयोजित किए जाने वाले "Poet of Millions" में एक अरब कवयित्री हिस्सा हिलाल ने सेमीफायनल से फायनल में प्रवेश किया, जिसका दर्शकों और निर्णायकों ने अति उत्साह से समर्थन व स्वागत किया | इस कवयित्री की कविताओं में परम्परावादियों और उनके वर्गवाद आदि के विरुद्ध आग उगलने वाले शब्दों में विरोध के स्वर मुखरित होते हैं और अपने इस अतिशय साहस के  कारण ही जहाँ एक ओर हिस्सा हिलाल संसार भर से समर्थन व प्रशंसा पा रही हैं, वहीं उसके विरूद्ध ह्त्या की धमकियों की भी कमी नहीं है| ऐसे में भी हिलाल ने टीवी कार्यक्रम में अपनी भागीदारी अनवरत रखी है | हिस्सा हिलाल के इस विद्रोह और साहस के लिए समाचार चैनलों द्वारा उसके स्वर को मुखरित करने व अधिकाधिक लोगों तक पहुँचाने के लिए समर्थन जुटाने के क्रम में उस से बातचीत की गई और प्रतिक्रिया जानने का यत्न भी|


प्रस्तुत  है, हिस्सा हिलाल से एक बातचीत -












No comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ मेरे लिए महत्वपूर्ण हैं।अग्रिम आभार जैसे शब्द कहकर भी आपकी सदाशयता का मूल्यांकन नहीं कर सकती।आपकी इन प्रतिक्रियाओं की सार्थकता बनी रहे इसके लिए आवश्यक है कि संयतभाषा व शालीनता को न छोड़ें.

Related Posts with Thumbnails